NewsEducationSchemeLoanRajasthan NewsBankingEmitraJobs

Rajasthan Madrassas Smart Class | गहलोत सरकार 500 मदरसे को स्मार्ट क्लास में बदलेगी

By Rajasthanhelp

Published on:

अन्य लोगों को शेयर करे

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

Rajasthan Madrassas Smart Class | गहलोत सरकार ने 500 मदरसों में स्मार्ट क्लास लागू | Rajasthan madrassas to have smart classrooms | Madrasas Smart Class list in Rajasthan | Madrasas to be equipped with smart classes in Rajasthan | Smart Class in Rajasthan

राजस्थान के मदरसों में होंगे स्मार्ट क्लासरूम: राजस्थान वालो के लिए बड़ी खबर निकल कर आई है अब राजस्थान में 500 मदरसों को स्मार्ट क्लास में बदला जायेगा। अगर आप राजस्थान से है और आपके बच्चे अगर मदरसों में पढ़ाई कर रहे है तो उनको मिलेगी स्मार्ट पढ़ाई।
अगर आप भी जानना चाहते है कि राजस्थान स्मार्ट क्लास क्या है कैसे 500 मदरसे को स्मार्ट क्लास में बदला जाएगा।

Rajasthan Smart Class क्या है? 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने राजस्थान बजट में घोषणा की थी कि राजस्थान में मदरसों को स्मार्ट क्लासरूम में बदला जायेगा जिसके लिए आज गहलोत सरकार ने 500 मदरसों में स्मार्ट क्लास बनाने का फैसला कर लिया है।

Smart Class आज के आधुनिक युग में शिक्षा देने या कहें किसी भी विषय वस्तु को बड़े ही आसान ढंग से समझाने का एक स्मार्ट तरीका है। जिसमें हम इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करते हैं जैसे Computer, Projector, Interactive Board और Speaker और इन उपकरणों की मदद से Smart Classes तैयार कर के हम बच्चों को शिक्षा देते हैं।

Smart Classes का उपयोग आज के दौर में दुनिया के लगभग सभी देशों के छोटे बड़े स्कूलों में किया जा रहा है क्योंकि Smart Class की मदद से शिक्षा देना या कहे किसी भी विषय वस्तु को समझना या समझाना बहुत आसान है जिससे विषय वस्तु को बारीकी से समझाने में और लंबे समय तक याद रखने में आसानी हो रही है।

Rajasthan madrassas to have smart classrooms का उद्देश्य या लाभ

  • यह उच्च गुणवत्ता के पर्याप्त सामग्री प्रदान करके सीखने और सिखाने की गुणवत्ता को सुधार करने में मदद करता है।
  • Smart Class in madrassas के द्वारा वस्तु को बड़े ही रोचक तरीके से कठिन से कठिन विषय को समझने या समझाने में मदद मिलती है।
  • किसी भी विषय वस्तु को बार-बार देखा और देखकर समझा जा सकता है।
  • किसी भी विषय वस्तु को चित्र और वीडियो के माध्यम से समझने और समझाने में आसानी मिलती है।
  • चित्र और वीडियो के माध्यम से समझा या समझाया गया विषय वस्तु ज्यादा वक्त तक याद रहता है।
  • Smart Class in Rajasthan के द्वारा बहुत ही कम समय में ज्यादा से ज्यादा सीखने को मिलता है।
  • प्रतिदिन के किए गए कार्य को लम्बेसमय तक सेव करके रखना और जरूरत पड़ने पर दोबारा उसे देखना

यह भी पढ़े

Rajasthan Assembly Election 2023 | राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर पीएम मोदी का दौरा

राजीव गांधी शहरी ओलंपिक खेल 2023 | राजस्थान में शहरी ओलंपिक खेल 26 जनवरी से शुरु

राजीव गांधी किसान बीज उपहार योजना राजस्थान | किसानों को फ़्री ट्रैक्टर देगी सरकार

500 मदरसों में स्मार्ट क्लासरूम बनाने का फैसला

मदरसों में स्टूडेंट्स अब ब्लैक बोर्ड की जगह स्मार्ट बोर्ड के जरिए तालीम हासिल करेंगे। मुख्यमंत्री गहलोत ने इसके लिए 13.10 करोड़ रुपए का एडिशनल बजट स्वीकृत किया है। राजस्थान मदरसा बोर्ड में रजिस्टर्ड मदरसों में से 500 मदरसों में स्मार्ट क्लासरूम बनाए जाएंगे। इसके लिए हर मदरसे पर 2.62 लाख रुपए खर्च होंगे। गहलोत ने साल 2022-23 के बजट में रजिस्टर्ड मदरसों में स्मार्ट क्लासरूम मय इंटरनेट की सुविधा स्टेप बाय स्टेप चालू करने की घोषणा की थी। इसके तहत पहले फेज में आने वाले साल में 500 मदरसों को अपग्रेड किया जाएगा।

Madrasas Smart Class list in Rajasthan 

राजस्थान सरकार ने पहले फेज में 500 मदरसो को स्मार्ट क्लास रूम में तब्दील किया है बाकी धीरे धीरे राजस्थान में डिजिटल पढ़ाई को लेकर रोज नई प्रक्रिया अपनाई जा रही है।

गहलोत ने ट्वीट कर लिखा Madrassas Smart Class

“राज्य सरकार ने राज्य के मदरसों को आधुनिक तकनीक से जोड़ना शुरू कर दिया है। अब मदरसों में बेहतर शिक्षा के लिए उन्हें स्मार्ट क्लासरूम जैसी विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। यहां छात्रों को अब ब्लैकबोर्ड की जगह स्मार्ट बोर्ड से शिक्षा मिलेगी।”

 


अन्य लोगों को शेयर करे

Related Post

Leave a Comment