NewsEducationSchemeLoanRajasthan NewsBankingEmitraJobs

Chakshu Portal App | सरकार की तीसरी आंख Chakshu पोर्टल, फर्जी Call और SMS करने वालों पर लगेगी लगाम

By Rajasthanhelp

Published on:

अन्य लोगों को शेयर करे

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

Chakshu Portal App: मोदी सरकार की ओर से एक नया चक्षु पोर्टल लॉन्च किया है। यह नया पोर्टल केंद्र सरकार के संचार साथी पोर्टल के तहत काम करेगा। इस पोर्टल से फर्जी कॉल और मैसेज करके लोगों के ठगने वालों पर कार्रवाई की जा सकेगी। बता दें कि Chakshu का हिंदी मतलब आंख (Eye) होता है। इस पोर्टल को यूनियन मिनिस्टर ऑफ कम्यूनिकेशन एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फॉर्मेंशन अश्विनी वैष्णव ने लॉन्च किया है।

इसके अलावा डिपॉर्टमेंट ऑफ टेलिकॉम्यूनिकेशन यानी DoT का डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म (DIP) लॉन्च किया गया है। इसकी मदद से साइबर क्राइम और बैंकिंग फ्रॉड को रोकने में मदद मिलने की उम्मीद है।

What is Chakshu App | चक्षु ऐप क्या है?

सरकार ने साइबर क्राइम और स्पैम कॉल से निपटने के लिए दो नए प्लेटफॉर्म शुरू किए हैं। पहले प्लेटफॉर्म का नाम चक्षु है। यह लोगों को संदिग्ध मैसेज, नंबर और फिशिंग के प्रयासों की रिपोर्ट करने में सक्षम बनाता है। दूसरा है डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म।

यह बैंकों, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और अन्य संगठनों को साइबर अपराधियों के बारे में जानकारी का आदान-प्रदान करने की सुविधा देता है। सरकार को भरोसा है कि ये दोनों प्लेटफॉर्म धोखाधड़ी की रोकथाम में मदद करेंगे

Govt New Portal Chakshu App Benifits 

चक्षु का इस्‍तेमाल संदिग्ध धोखाधड़ी वाले कम्‍युनिकेशन की रिपोर्ट करने के लिए किया जा सकता है। इसके जरिये यूजर नंबर, मैसेज और फिशिंग अटेम्‍प्‍ट्स के बारे में रिपोर्ट कर सकते हैं। दूसरी ओर डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म बैंकों, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और वॉलेट ऑपरेटरों के बीच साइबर क्रिमिनल डेटा साझा करने में समर्थ बनाने के लिए इंटर-एजेंसी प्रयास है।

कर पाएंगे फ्रॉड कॉल और SMS की शिकायत

बता दें कि Chakshu एक अतिरिक्त सिटिजन सेंट्रिक सुविधा है, जो कि पहले से संचार साथी पोर्ट पर उपलब्ध है। इस सुविधा में यूजर्स को फ्रॉड कॉल, मैसेज और वॉट्सऐप चैट की शिकायत करने का ऑप्शन मिलेगा। साथ ही बैंक अकाउंट अपडेट, केवाईसी अपडेट, पेटीएम वॉलेट, नया सिम, गैस कनेक्शन, इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शन, समेत सभी तरह के फ्रॉड की रिपोर्ट किया जा सकेगा। इसके अलावा लोग साइबर और वित्तीय फ्रॉड की शिकायत साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर 1930 और केंद्रीय वेबसाइट https://www.cybercrime.gov.in पर की जा सकेगी।


अन्य लोगों को शेयर करे

Related Post

Leave a Comment