NewsEducationSchemeLoanRajasthan NewsBankingEmitraJobs

Ayushman Bhava Campaign 2023 | आयुष्मान भव अभियान | Ayushman Bhava Program की संपूर्ण जानकारी

By Rajasthanhelp

Published on:

अन्य लोगों को शेयर करे

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

Ayushman Bhava | Ayushman Bhava Campaign | Ayushman Bhava Program | Ayushman Bhava Abhiyan | आयुष्मान भव अभियान | ayushman bhav launch | ayushman bhava meaning | ayushman bhava scheme | ayushman bhav programme | ayushman bhava launch

Ayushman Bhava 2023: समस्त भारत के मेरे भाइयों, बहनों, माताओं, बुजुर्गो आप सभी का हार्दिक अभिनंदन राजस्थान हेल्प में ,आज हम आप सभी को आयुष्मान भव अभियान के बारे में जानकारी देने वाले है की ये ayushman bhava scheme क्या हे, कैसे आप सभी को इसका फायदा मिलेगा। इसलिए आप सभी हमारे साथ लास्ट तक जुड़े रहे हे जिस से आप सभी को आयुष्मान भव अभियान की संपूर्ण जानकारी मिल सके।

Ayushman Bhava Abhiyan | आयुष्मान भव अभियान क्या है?

आयुष्मान भव अभियान भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक देश और राष्ट्रव्यापी स्वास्थ्य सेवा पहल है, जिसका उद्देश्य देश के हर गांव और कस्बे तक स्वास्थ्य सेवाओं की व्यापक पहुंच प्रदान करना है। यह पहल ‘आयुष्मान भारत’ कार्यक्रम की सफलता के मद्देनजर शुरू की गई है। इस आयुष्मान भव अभियान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन यानी 17 सितंबर, 2023 से लागू किया जाएगा।

इस अभियान के तहत आगामी 17 सितंबर से 2 अक्टूबर तक आयुष्मान योजना से जुड़े सभी स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों पर आयुष्मान मेले आयोजित किए जाएंगे।

इसमें गरीब, मध्यम वर्ग के लोगों का फ्री इलाज किया जाएगा। पात्र लोगों के तुरंत आयुष्मान भव कार्ड बनाए जाएंगे। देश के सभी जिले के मेडिकल कॉलेज और ब्लॉकों में कैंप लगाए जाएंगे।

Ayushman Bhava Campaign Overview

योजना का नामआयुष्मान भव योजना
योजना शुरू की गयीपीएम नरेंद्र मोदी के द्वारा
योजना की घोषणा की गई13 सितंबर 2023
पूरे देश में लागू की गई17 सितम्बर 2023
लाभार्थीदेशवासी
उद्देश्य
  • सभी नागरिकों को, गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://pmjay.gov.in/

 

Ayushman Bhava Program | आयुष्मान भव योजना के उद्देश्य

देश में गरीब वर्ग के जो परिवार आर्थिक तंगी के चलते अपने बीमारी का इलाज नहीं करवा पाते है उनके लिए यह आयुष्मान भव अभियान योजना काफी मददगार साबित होगी। इस योजना में लाभार्थी को कैंप के ज़रिए तुरन्त स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जायेगा। साथ ही जरुरत पड़ी तो  पात्र लोगों के तुरंत आयुष्मान भव कार्ड बनाए जाएंगे।  इससे गरीब वर्ग के लोग भी अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं ले सकेंगे। और बीमारियों पर होने वाले खर्च से बच सकेंगे। ये अभियान मेंले और कैंप के रूप में लगाया जायेगा।

आयुष्मान भव अभियान के मुख्य उद्देश्य निम्नलिखित हैं:

  • सभी नागरिकों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच प्रदान करना
  • स्वास्थ्य सेवाओं में असमानता को कम, करना
  • स्वास्थ्य सेवाओं की लागत को कम करना
  • स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार करना
  • देश के गरीब वर्ग को उपर लाना

Ayushman Bhava Program | आयुष्मान भव कार्यक्रम

आयुष्मान भव अभियान के तहत निम्नलिखित गतिविधियां की जाएंगी:

  • स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में जागरूकता बढ़ाना
  • स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच में सुधार करना
  • स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार करना

आयुष्मान भव अभियान के लिए सरकार ने 10,000 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। इस अभियान के तहत एक लाख 17 हजार हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों और अन्य चिकित्सा केंद्रों पर मुफ्त जांच की जाएगी।

Ayushman Bhava Card

देश में  60 हजार गरीबों को आयुष्मान कार्ड वितरित किए जाएंगे। आयुष्मान भव अभियान भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है, जिसका उद्देश्य देश के सभी नागरिकों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करना है। यह अभियान भारत के स्वास्थ्य क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण बदलाव लाने की क्षमता रखता है।

Ayushman Bhava Scheme Benifits | आयुष्मान भव योजना के लाभ

आयुष्मान भव अभियान के कुछ प्रमुख लाभ निम्नलिखित हैं:

  • सभी नागरिकों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच प्रदान होगी।
  • स्वास्थ्य सेवाओं में असमानता कम होगी।
  • स्वास्थ्य सेवाओं की लागत, कम होगी।
  • स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार होगा।
  • गरीब, मध्यम वर्ग के लोगों का फ्री इलाज
  • पात्र लोगों के तुरंत कार्ड मिलेगा।

Ayushman Bhav programme Latest News

Ayushman Bhava Campaign

आयुष्मान भवः कार्यक्रम के तहत HWC औस CHC में आयुष्मान मेले के तहत करीब 1.17 लाख आयुष्मान भारत-एचडब्ल्यूसी और सीएचसी में एबीएचए आईडी बनाने का भी काम किया जाएगा।

आयुष्मान भव अभियान के  चुनौतियां

  • जन जागरूकता का अभाव
  • स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता में कमी
  • स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार की आवश्यकता

आयुष्मान भव’ अभियान आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों के लिए पूरे भारत में 17 सितंबर, 2023 को शुरू किया जाने वाला एक सार्वजनिक स्वास्थ्य अभियान है। जो एक पखवाड़े तक चलेगा।

Ayushman Bhav Launch | अभियान में तीन प्रमुख घटक

इस अभियान में तीन प्रमुख घटक शामिल हैं जिसमें आयुष्मान आपके द्वार 3.0, आयुष्मान मेला और आयुष्मान सभा शामिल है। कार्यक्रम का उद्देश्य पूरे देश में स्वास्थ्य देखभाल की पहुंच को बढ़ाना और स्वास्थ्य जागरूकता को बढ़ाना है। सरकार 2024 को लोकसभा चुनाव से पहले ज्यादा से ज्यादा लोगों को आयुष्मान योजना से जोड़ना चाहती है।

Ayushman Bhava Campaign | आयुष्मान भव अभियान का लाभ किसे मिलेगा

ग्रामीण क्षेत्रों में 

1बिना शेल्टर वाले घर
2ऐसे बेसहारा परिवार जो भीख या दान पर निर्भर
3सिर पर मैला ढोने वाले परिवार
4पुरातन जनजातीय समूह
5कानूनी ढंग से छुड़ाए गए बंधक मजदूर

 

शहरी क्षेत्र में वर्ग के अनुसार संख्या 

वर्गसंख्या
कचरा उठाने वाले23,825
भिखारी47,371
घरेलू नौकर6,85,352
फुटपाथी, दुकानदार, हॉकर8,64,659
भवन निर्माण मजदूर, प्लंबर, मिस्त्री, पेंटर, वेल्डर, सिक्योरिटी गार्ड, कुली, माल ढुलाई वाले1,02,35435
स्वीपर, सैनिटेशन वर्कर, माली60,6446
घरों में काम करने वाले वर्कर, दस्तकार, शिल्पकार, टेलर27,58194
ट्रांसपोर्ट वर्कर, ड्राइवर, कंडक्टर, हेल्पर, कार्ट और रिक्शा पुलर27,72,310
दुकानों के वर्कर, सहायक, चपरासी, हेल्पर, डिलीवरी सहायक, वेटर36,93,042
इलेक्ट्रीशियन, मैकेनिक, एसेंबलर, रिपेयर वर्कर11,99,262
वाॅशरमैन, चौकीदार4,60,433
अन्य22 लाख

 

Ayushman Bhava Abhiyan me कौन सी बीमारी इसमें कवर की जाती हैं?

आयुष्मान भव अभियान में निम्नलिखित बीमारियों को कवर किया जाएगा:

  • सामान्य बीमारियां: सर्दी, खांसी, बुखार, दस्त, उल्टी, पेट दर्द, सिर दर्द, आदि।
  • संक्रमित बीमारियां: टीबी, कुष्ठ, मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, आदि।
  • गैर-संक्रमित बीमारियां: हृदय रोग, कैंसर, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, आदि।
  • महिलाओं और बच्चों की बीमारियां: गर्भावस्था, प्रसव, शिशु देखभाल, आदि।

इन बीमारियों के इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होने, दवाओं और अन्य चिकित्सा सेवाओं का खर्च आयुष्मान भव अभियान द्वारा वहन किया जाएगा।

आयुष्मान भव अभियान के तहत कवर की जाने वाली कुछ विशिष्ट बीमारियों के उदाहरण निम्नलिखित हैं:

  • कैंसर: स्तन कैंसर, फेफड़े का कैंसर, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर, आदि।
  • हृदय रोग: हृदयाघात, हृदय गति रुकना, आदि।
  • मधुमेह: टाइप 1 और टाइप 2 मधुमेह।
  • उच्च रक्तचाप: उच्च रक्तचाप।
  • गर्भावस्था और प्रसव: गर्भावस्था की जांच, प्रसव, प्रसवोत्तर देखभाल, आदि।

आयुष्मान भव अभियान के तहत कवर की जाने वाली बीमारियों की एक विस्तृत सूची सरकार द्वारा जारी की जाएगी।

Ayushman Bhava Campaign Importants Links

Ayushman Bhava official website जल्द ही
Join WhatsApps Join now 
Join Telegram Join now 


अन्य लोगों को शेयर करे

Related Post

Leave a Comment